इस प्रकरण से नाराज़ अफजाल अंसारी अपने समर्थको के साथ वही मौके पर धरना देकर बैठ गए है। उनके धरने का समाचार जैसे जैसे अन्य दलों और उनके समर्थको को लग रहा है वह भी धरना स्थल पर पहुच रहे है। लगातार धरना स्थल पर भीड़ बढती जा रही है।

प्राप्त समाचारों के अनुसार आज चंदौली जनपद में ईवीएम के बदले जाने का समाचार फिजाओं में तैर ही रहा था और मौके पर बवाल हो ही रहा था कि गाजीपुर के जंगीपुर में भी ईवीएम बदले जाने का समाचार फैलने लगा है।  

मामले में अफजाल अंसारी मौके पर ईवीएम की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाये तो प्रशासनिक अधिकारियो ने उनको टालने का प्रयास किया। इसके बाद अधिकारियों से अफजाल अंसारी ने खुद ईवीएम देखने की बात कही तो अधिकारी ईवीएम दिखाने को तैयार नही हुए। जिसके बाद अफजाल अंसारी खुद अपने समर्थको के सग धरने पर बैठे गए है।

गाजीपुर के जंगीपुर में सुरक्षित रखी हुई मतदान के बाद ईवीएम मशीनों के बदले जाने का समाचार गाजीपुर के फिजाओं में पहुच गया,


इसका समाचार मिलते ही मौके पर गठबंधन प्रत्याशी अफजाल अंसारी अपने समर्थको के साथ पहुच गए।

यूपी के गाजीपुर में अफ़ज़ाल अंसारी धरने पर बैठे -EVM बदलने का प्रशासन पर लगाया आरोप

गठबंधन प्रत्याशी अफजाल अंसारी और उनके समर्थको का आरोप है कि केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा अपनी हार को देख कर अब बेईमानी पर उतर आये है।


भाजपा एक साजिश के तहत ईवीएम बदल कर चुनाव जीतना चाहती है। अफजाल अंसारी ने कहा कि भले प्रशासन उनको गोली मरवा दे, वह अपनी जान दे देंगे मगर लोकतंत्र की इस प्रकार भाजपा के द्वारा हत्या नही होने देंगे।

अफजाल अंसारी के समर्थको और अफजाल अंसारी का आरोप था कि सत्तारूढ़ दल भाजपा धोखे से सभी जगह ईवीएम बदल रही है।


इस दौरान ईवीम को देखने की मांग अफजाल अंसारी करने लगे। मगर मौके पर प्रशासनिक अधिकारी ईवीएम दिखाने को तैयार नही हुवे और बात को टालने लगे।