क्या है योजना और नया नाम?

दरअसल, कुछ समय पहले तक इस योजना का नाम आयुष्मान भारत योजना था, लेकिन अब इसका नाम 'आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना-मुख्यमंत्री योजना' कर दिया गया है।


इस योजना के अंतर्गत कार्डधारक सूचीबद्ध अस्पतालों में अपना 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते हैं।

​50 करोड़ से ज्यादा लोग होंगे लाभान्वित


​1. आयुष्मान भारत-राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना ( Ayushman Bharat National Health Protection Mission (ABNHPM) का लाभ देश के 11.74 करोड परिवारों को देने का लक्ष्य रखा गया है। हर परिवार में 5 सदस्यों का औसत माना जाए तो देश की 50 करोड़ से ज्यादा की आबादी इसके दायरे में आती है।


2. ​इसमें ग्रामीण क्षेत्रों के सुविधाहीन परिवारों और शहरी क्षेत्रों के भी कुछ तय पेशों में लगे परिवार  शामिल किए जाएंगे।


​3.राज्यों में स्थित सभी सरकारी अस्पताल, राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा बीमा के पैनल में शामिल माने जाएंगे 


​4.प्राइवेट अस्पतालों को कुछ निर्धारित मानकों को पूरा करने पर इस योजना के पैनल में शामिल किया जाएगा। पैनलाइजेशन की प्रकिया भी आॅनलाइन ही होगी।

​नौकरियों के अवसर

केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना के द्वारा अगले पांच साल में 2 लाख नौकरियों का सृजन हो सकता है।  
स्वास्थ्य मंत्रालय के एक आकलन में यह जानकारी सामने आई है। आयुष्मान भारत के सीईओ के अनुसार इसके तहत एक लाख 'आयुष्मान मित्र' की भर्ती की जाएगी।


यह नौकरियां अस्पतालों, बीमा कंपनियों, कॉल सेंटर, रिसर्च सेंटर आदि जगहों पर तैयार होंगी। 
आयुष्मान मित्र की नियुक्तियों से सरकार के लिए योजना की सहजता से निगरानी, मूल्यांकन और उसे लागू करना आसान होगा।  


अब फायदा ज्यादा

योजना का नाम इसलिए बदला गया है, ताकि केंद्र के साथ मिलकर राज्य भी अपना सहयोग करने के साथ-साथ सह-प्रचार भी करें। वहीं, योजना के अंतर्गत कार्डधारक 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकता है।

आयुष्मान भारत योजना, लेकिन अब इस योजना का नाम बदल दिया गया है। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि, नाम के अलावा इस योजना के अंतर्गत मिलने वाले लाभ को भी बढ़ाया गया है। देश में काफी संख्या में इस योजना से लोग जुड़े हैं, और मुफ्त में अपना इलाज करवा रहे हैं। ऐसे में अगर आप भी इस योजना के लाभार्थी हैं या योजना से जुड़ने वाले हैं, तो आपके लिए जानना जरूरी हो जाता है कि योजना में क्या बदलाव किए गए हैं। आप अगली स्लाइड्स में इस बारे में जान सकते हैं... ​

इसलिए बदला गया है लोगो

आयुष्मान कार्ड के लोगो को अगर आप देखेंगे, तो आपको ये बदला हुआ नजर आएगा। ऐसा इसलिए क्योंकि अब इसमें राज्य का भी लोगो रहेगा। इससे राज्य और केंद्र के लिए अलग-अलग कार्ड की जरूरत नहीं होगी।

<img src="https://mytaprana.in/ibp.jpg" alt="IBP" />

​वहीं, अब आयुष्मान भारत के अलावा कुछ राज्य सरकारें भी कार्डधारकों को मिलने वाले 5 लाख रुपये के लाभ से अलग मदद देगी। ऐसे में कार्डधारक को पहले से ज्यादा फायदे मिल सकते हैं। इसके अलावा अब ट्रांसजेंडर को भी इस आयुष्मान योजना से जोड़ा गया है, जो लाभ ले पाएंगे।

Ayushman Card: खुशखबरी! आयुष्मान योजना में 5 लाख नहीं अब और भी ज्यादा मिल सकता है लाभ, जानें कैसे