शिलापट्ट पर नाम नहीं होना बीजेपी सांसद को इतना नागवार गुजरा कि उन्होंने भरी सभा में अपनी पार्टी के विधायक की जूते से धुनाई कर दी। 


वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।  

इस दौरान दोनों के बीच जम कर गालीगलौच भी हुई। विधायक भी चुप नहीं रहे, उन्होंने भी आगे बढ़कर इसका करारा जवाब दिया और दो चार हाथ सांसद महोदय को भी धर दिए।  

विधायक राकेश बघेल कुछ समझ पाते उसके पहले ही सांसद शरद त्रिपाठी उनके ऊपर जूते बरसाने लगे।  अचानक हुए इस हमले से विधायक राकेश बघेल संभल नहीं पाए।  

भरी बैठक में प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन और प्रशासनिक-पुलिस अधिकारियों के बीच खुद माननीय विधायक को सांसद द्वारा अपनी पिटाई रास नहीं आई।   इसके बाद वे सांसद शरद त्रिपाठी की ओर लपके और दो-चार हाथ रसीद कर दिए।  

इसी दौरान शिलापट्ट पर नाम नहीं होने की बात पर बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी और विधायक राकेश बघेल के बीच तू-तू, मैं-मैं शुरू हो गई।


पहले तो सभी ने इसे सामान्य तरीके से लिया,लेकिन गुस्से से आग बबूला हुए सांसद शरद त्रिपाठी ने विधायक को ललकारा और गालियां देने लगे।    

सोशल मीडिया पर भी लोग इस वीडियो को खूब शेयर कर रहे हैं। लोकसभा चुनाव के पहले इस घटना ने जहां बीजेपी की किरकिरी कर दी है, तो वहीं विपक्षी पार्टियों को भी जनता को साधने का एक मौका मिल गया है।  

संतकबीरनगर के कलेक्ट्रेट सभागार में बुधवार की शाम 5:00 बजे प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन की मौजूदगी में विकास कार्यों को लेकर बैठक हो रही थी।

 
बैठक में उनके अलावा बीजेपी से सांसद शरद त्रिपाठी और मेंहदावल विधानसभा सीट से बीजेपी के विधायक राकेश बघेल भी मौजूद थे। 

उत्तर प्रदेश : संतकबीरनगर में बीजेपी सांसद ने अपनी ही पार्टी के विधायक को जूते से पीटा