झारखंड की राजधानी रांची में सोशल साइट पर आपत्तिजनक पोस्ट लिखने के आरोप में स्थानीय कोर्ट ने ऋचा कुमारी नाम की आरोपी युवती को एक अनोखी सजा सुनाई है।  

कोर्ट ने ऋचा को इस मामले में जमानत देते हुए कुरान की पांच किताबें दान करने का आदेश दिया है।

दरअसल ऋचा ने अपने फेसबुक पर इस्लाम के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट लिखी थी।


ऋचा के पोस्ट से नाराज होकर मंसूर खलीफा नाम के शख्स ने 12 जुलाई को थाने में जाकर ऋचा के खिलाफ धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी।  

मंसूर की शिकायत पर पुलिस ने ऋचा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।


ऋचा की गिरफ्तारी के खिलाफ हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने विरोध मार्च भी निकाला था।  

हिंदू संगठन के लोग ऋचा को रिहा करने के साथ ही पिठोरिया थाना के प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे।  

लड़की ने इस्लाम के खिलाफ सोशल मीडिया पर लिखा पोस्ट ,कोर्ट ने दी सजा- 5 कुरान दान करो

कोर्ट ने ऋचा को 15 दिन के अंदर कुरान की एक प्रति शिकायतकर्ता जबकि अन्य चार प्रति कॉलेज या स्कूल में छात्रों के बीच बांटने का निर्देश दिया है।