साथ ही साथ परिजनों को चमकी बीमारी के लक्षण और बचाव के तरीक़ों से अवगत कराया गया।

11 गाँवों में चौपाल लगा करा चमकी बीमारी के बारे में जानकारी दी गयी सभी परिवारों को बुखार नापने का डिजिटल थर्मामीटर और ORS भी निशुल्क दिया गया ।

डॉक्टर कफ़ील खान जब 12 दिनों में 4200 बच्चों का इलाज कर सकता है तो सरकार कहाँ है

डाक्टरो की टीम में डाक्टर कफील खान के आलावा डा एन आजम,डाo आशीष गुप्ता ,डॉक्टर P K choudhary, डॉक्टर अरशद अंजुम शामिल थे .इंसाफ मंच बिहार के उपाध्यक्ष जफर आज़म, कामरान रहमानी, दानिश, आफ़ताब साहब , फ़हद भाई , धरामदेव यादव ,चंदन पासवान ,ऐजाज,सोनू तिवारी तथा पिंटू गुप्ता का भी योगदान काफी सराहनीय रहा।

डॉक्टर कफ़ील खान मिशन स्माइल फ़ाउंडेशंज़ तथा इंसाफ़ मंच के सौजन्य से 12 दिन में (18/06/19-29/06/19) मुज़फ़्फ़रपुर , चंपारन ,वैशाली , सीतामढ़ी


 में 15 से अधिक चमकी बीमारी जाँच शिविर में क़रीब 4200 बच्चों की जाँच कर और उन्हें दवाइयाँ मुफ़्त दी गयी।