इस बार हज पर आजमीनों के साथ महिला खुद्दाम भी जाएंगी। यह पहली बार होगा जब आजमीनों की सेवा के लिए महिला खुद्दाम को शामिल किया गया है।


इसमें महिलाओं का दो फीसद कोटा रखा गया है। 

खुद्दाम के लिए वही आवेदन कर सकते हैं जिनका पासपोर्ट 14 जनवरी 2019 से पूर्व बना हो और पासपोर्ट की वैधता 31 जनवरी 2020 से कम नहीं हो। 

हज 2019 -आजमीनों के साथ हज पर पहली बार जाएंगी महिला खुद्दाम

​खुद्दाम के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 14 जनवरी है। हज कमेटी ने इस बार खुद्दाम के लिए कई शर्तें भी लगाई हैं। 


वर्ष 2019 में हज आजमीन की सेवा करने के इच्छुक अगर खुद्दाम बनना चाहते हैं तो हज कमेटी आफ इंडिया की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।


आवेदन की एक प्रति उत्तर प्रदेश हज कमेटी को 14 जनवरी तक जमा करनी होगा।

खुद्दाम के लिए शर्तें 


-आवेदनकर्ता हज या उमरा पहले एक बार कर चुका हो। 
-आवेदक पूरी तरह स्वस्थ हो, चिकित्सा प्रमाणपत्र अनिवार्य है। 
-अस्थायी, अंशकालिक, संविदा, तदर्थ कर्मचारी आवेदन के पात्र नहीं हैं। 
-आवेदक को नियोक्ता से एनओसी (अनापत्ति प्रमाणपत्र) प्राप्त कर हज कमेटी मेें जमा करना अनिवार्य है। 
-पुलिस, वन और राजस्व कर्मियों को वरीयता दी जाएगी। 
-महिला खुद्दाम के लिए दो फीसद कोटा है। 
-आवेदक का संबंध सऊदी अरब के किसी मुअल्लिम (काम कराने वाले) से नहीं हो। 
-आवेदक हज आजमीन से कोई पारिश्रमिक नहीं लेंगे क्योंकि यह एक सामाजिक कार्य है। 
-राज्य हज कमेटी एवं स्टेट वक्फ बोर्ड कर्मियों के लिए 15 प्रतिशत कोटा आरक्षित किया गया है।