महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर जहां एक ओर पूरा देश उनके संघर्षों और विचारों को याद करते हुए श्रद्धांजलि दे रहा है, वहीं दूसरी ओर एक कथित हिंदूवादी संगठन का शर्मनाक कृत्य सामने आया है।


उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में अखिल भारत हिंदू महासभा की एक नेता ने बापू का अपमान किया है। इस महिला नेता ने बापू के पुतले को शूट करते हुए तस्वीरें खिंचवाईं, वहीं संगठन के कार्यकर्ताओं ने शौर्य दिवस मनाया।


इस दौरान नाथूराम गोडसे की तस्वीर पर माल्यार्पण भी किया गया। 

हैरानी की बात यह है कि हिंदू महासभा ने इसके लिए बाकायदा मीडिया को बुलाया था। पत्रकारों की मौजूदगी में इस विवादित कार्यक्रम को आयोजित किया गया।


इस बार हिंदू महासभा ने सारी हदें पार कर दी हैं।

यही नहीं इस दौरान हिंदू महासभा की नेता ने गांधीजी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की तुलना भगवान कृष्ण से की।


उन्होंने कहा कि अगर गांधी जीवित रहते तो देश का एक और विभाजन होता।


बता दें कि पूजा शकुन पांडे पहले भी विवादों में रही हैं।


पिछले कुछ वर्षों के दौरान वह कई बार गोडसे की प्रतिमाओं और तस्वीरों पर फूल चढ़ाने के साथ महिमामंडन कर चुकी हैं। पहले भी वह गांधीजी की पुण्यतिथि को शौर्य दिवस के रूप में मनाते हुए मिठाइयां बांट चुकी हैं। 

नफरत ज़िन्दाबाद : हिंदू महासभा की नेता ने बापू के पुतले में मारी 'गोली'

अलीगढ़ में अखिल भारत हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडेय ने गांधीजी के पुतले को गोली मारकर देश को शर्मसार कर डाला। 

एक नकली गन के जरिए पूजा ने पुतले पर एक के बाद एक तीन गोलियां मारीं। गोली लगने के बाद कृत्रिम तौर पर बापू के पुतले से खून बहते हुए भी दिखाया गया।

यही किसी अल्पसंख्यक ने किया होता तो उसका पूरा खानदान, अड़ोस, पुलिस पड़ोस सब को गिरफ्तार कर के उनके isis से रिश्ते साबित कर देती।