इत्तेफ़ाक़-इस साल एक दिन मनाया जाएगा हजरत अली का जन्मदिन, नौरोज और होली 

इस साल हजरत अली का जन्म दिवस और ईद-ए-नौरोज एक ही दिन मनाया जाएगा। इसके अलावा होली भी उसी दिन मानई जा रही है।

यह बातें गुरुवार को खानदाने इजतेहाद के नौजावान आलम दीन मौलाना सैय्यद सैफ अब्बास नकवी ने कहीं। उन्होंने कहा कि 13 रजब हजरत अली का जन्मदिन और नौरोज की नज्र 21 मार्च की नज्र का वक्त सुबह तीन बजकर 27 मिनट का है।

इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि किसी को भी कोई परेशानी न हो। इस खुशी के दिन सभी लोगों से अपील करते हैं कि वे अपने धार्मिक त्योहार को शांति व्यवस्था के साथ मनाएं। समाज के दुश्मन तत्वों से सावधान रहें। अफवाहों पर ध्यान न दें।


उन्होंने पुलिस व जिला प्रशासन से समाज के असमाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखने की अपील की।

गुरुवार को मौलाना सैय्यद सैफ अब्बास ने प्रेसवार्ता में कहाकि नौरोज की नज्र के बाद महफिल का दौर चलेगा।


उन्होंने बताया कि होली व नौरोज यह दोनों त्योहार एक साथ होना गंगा-जमुनी तहजीब की निशानी है, हम लोगों को प्यार और भाई-चारे के साथ दोनों त्योहार मनाना चाहिए।