सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती (रह) की दरगाह में रविवार को उर्स के झंडे की रस्म अदा की जाएगी। इसमें ख्वाजा साहब के 807 वें उर्स की औपचारिक शुरुआत होगी।


उर्स विधिवत रूप से सात या आठ मार्च को रजब का चांद दिखाई देने पर शुरू होगा।

दरगाह कमेटी दरगाह ख्वाजा साहब अजमेर की एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी मीटिंग शुक्रवार को हुई।


इस बैठक में उर्स के इंतजामों पर चर्चा की गई। बैठक में बताया गया कि ख्वाजा गरीब नवाज यूनिवर्सिटी यूनिवर्सिटी की बुनियाद 6 मार्च को केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी के हाथों रखी जाएगी।

नव स्थापित होने वाले विश्वविद्यालय की प्रारंभिक तैयारी इस तरह की जा रही है कि प्राइमरी में दाखिला लेने वाला विद्यार्थी विश्वविद्यालय की पढ़ई पूरी करके ही बाहर निकले।


ख्वाजा गरीब नवाज यूनिवर्सिटी में अल्पसंख्यक समुदाय को पचास प्रतिशत आरक्षण की सुविधा भी रहेगी।


सुविधाओं के नाम पर विश्वविद्यालय में स्वीमिंग पूल, फूड कोर्ट, बॉयज एवं गर्ल्स हॉस्टल तथा स्टाफ क्वार्टर जैसी सुविधाओं की अभी से प्रावधान किया जा रहा है।

Khawaza Gareeb Nawaz

रविवार से शुरू होगा अजमेर में गरीब नवाज़ का का उर्स, रखी जाएगी यूनिवर्सिटी की नींव

बैठक में दरगाह कमेटी के चेयरमैन अमीन पठान ने कहा कि दरगाह कमेटी का प्रयास है कि हर वर्ष जायरीन की सुविधाओं में इजाफा किया जाए।


इस साल जायरीन की सुविधा के लिए 5 प्लेटफार्म, 10 पानी की सबीले, एक वजूखाना, सीसी सर्कुलर रोड, 9ए ब्लॉक्स रोड, मजहबी कार्यक्रम आदि का एहतमाम किया गया है। दरगाह कमेटी की ओर से जायरीन की मदद के लिए वालेंटियर्स भी लगाए जाएंगे।