केंद्र सरकार अल्पसंख्यकों को बेहतर शिक्षा दिलाने के लिए कदम उठा रही हैं। सरकार की योजना नवोदय विद्यालयों की तर्ज पर पूरे देश में 100 अल्पसंख्यक कल्याण विद्यालयखोलने की हैं। 

मीडिया से बात करते हुए सैयद गय्यूर उल हसन ने इस दौरान बताया कि केंद्र सरकार की नई रोशनी स्कीम में अल्पसंख्यक समाज की बालिकाओं की प्रोग्रेस के लिए काम हो रहा है। 'नया सवेरा' स्कीम के जरिए कोचिंग के अभाव में सिविल सर्विस में जाने से वंचित होने वाले युवा वर्ग के लिए मुफ्त कोचिग देने का प्लान हैं। 

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सैयद गय्यूर उल हसन का कहना है कि केंद्र ने अल्पसंख्यक कल्याण के लिए पांच हजार करोड़ रुपये के बजट की व्यवस्था की है

और सरकार देशभर में 100 अल्पसंख्यक कल्याण विद्यालय खोलने की योजना पर काम कर रही है।

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सैयद गय्यूर उल हसन का कहना है कि केंद्र ने अल्पसंख्यक कल्याण के लिए पांच हजार करोड़ रुपये के बजट की व्यवस्था की है। 

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सैयद गय्यूर उल हसन रविवार को बिजनौर की जोगिरम्पुरी में दरगाह ए औलिया नजज ए हिद में पहुंचे थे। मातमी मजलिस में शिरकत की। 

सैयद गय्यूर उल हसन ने कहा कि अल्पसंख्यकों में शिक्षा की अलख जगाने के लिए नवोदय विद्यालयों की तर्ज पर देशभर में 100 अल्पसंख्यक कल्याण विद्यालय खोले पर काम चल रहा हैं।


शिक्षा और जागरूकता की कमी से से अल्पसंख्यक खासकर मुस्लिम इन योजनाओं का पूरी तरह लाभ नहीं ले पाते। 

केंद्रीय विद्यालय की तर्ज़ पर मुल्कभर में 100 अल्पसंख्यक कल्याण विद्यालय खोले जाएंगे