मिसाल-चांदनी चौक के मंदिर की मरम्मत करवाएगा मुस्लिम समाज, बवाल में हुई थी तोड़फोड़

बता दें कि पुरानी दिल्ली के चावड़ी बाजार इलाके में पार्किंग को लेकर हिंदू और मुस्लिमों की बीच हुई झ’ड़प के बाद तनाव पसरा हुआ है।


दरअसल, दो समुदायों के बीच हुई झड़प के बाद लोगों ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करना शुरू कर दिया। 

नुकसान का जायजा लेने आए हैं। हमने मंदिर के पुजारी से भी बात की है। अपनी ओर से मदद करेंगे। कमेटी का फैसला अंतिम होगा। शुभ मुहूर्त में मूर्ति की स्थापना की जाएगी।

दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में रविवार को हुए बवाल के बाद सांप्रदायिक सोहार्द के लिए मंदिर की मरम्मत का काम मुस्लिम समुदाय करवाएगा। 


अमन कमेटी के अध्यक्ष जमशेद सिद्दीकी ने बताया कि दोनों समुदायों के बीच मोहब्बत है। मंदिर की मरम्मत का काम मुस्लिम समाज करवाएगा। 

घटना को लेकर इलाके में एक क्लीनिक चलाने वाले डॉ. इशरत तफील ने कहा, ‘एक लड़का एक दुकान के बाहर गाड़ी खड़ी कर रह था।


इस पर दुकान के मालिक ने गाड़ी खड़ी करने से मना किया। इसी बात को लेकर दोनों में बहस हो गई। इस बीच कुछ और लोग आ गए और उस लड़के को पीटने लगे।

जितना भी नुकसान हुआ है, वह मुस्लिम समाज देने को तैयार है। आपस की मोहब्बत कभी भी खत्म नहीं होनी चाहिए। एक-दूसके के सुख-दुख में हमेशा शामिल रहे हैं।

बाद में लड़के को लहूलुहान हालत में अस्पताल ले जाया जा रहा था, तो रास्ते में लोगों ने पूछा कि क्या हो गया। चूंकि पिटने वाला लड़का मुस्लिम था और पीटने वाले हिंदू, इसलिए ये बात जंगल में आग की तरह फैल गई।’

वहीं दूसरी ओर पीस कमेटी के सदस्य तारा चंद सक्सेना ने कहा, ‘हम मामले का हल निकालेंगे। हिंदू मुस्लिम साथ मिलकर रहते हैं. मुस्लिम मदद को आए, यह अच्छा कदम है।’

इस मसले पर आप नेता इमरान हुसैन ने कहा कि रविवार की रात को ही बवाल के बाद हमारे हिंदू और मुसलमान भाई एक साथ थाने में वार्ता करने पहुंचे।


इस दौरान एक दूसरे को गले लगाया गया और मामला वहीं खत्म कर दिया गया। मैं भी वहीं मौजूद था। उन्होंने कहा कि न हिंदू और न ही मुसलमान, किसी भी तरह का दंगा हमारे इलाके में चाहते हैं।