कांग्रेस ने भी इस मसले पर सवालिया निशान लगाए और पूछा कि पश्चिम बंगाल के अंदर सात चरणों में मतदान की क्या जरूरत थी।   हालांकि, कांग्रेस ने यह भी कहा कि इस मसले को बड़ा मुद्दा बनाने की जरूरत नहीं है। 

 
बीजेपी के प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने रमजान को मुस्लिमों के लिए पाक महीना बताते हुए कहा कि मुसलमान रमजान में रोजा भी रखते हैं और काम भी करते हैं।

ओवैसी ने कहा, 'चुनाव एक लंबी प्रक्रिया है और  एक मुस्लिम होने के नाते मैं रमजान में चुनाव का स्वागत करता हूं।   इस महीने में मुसलमान ज्यादा जज्बे के साथ काम करते हैं। '

रमजान के दौरान लोकसभा चुनाव की वोटिंग को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं। 


इस विवाद पर ओवैसी ने कहा है कि मुसलमानों का जज्बा रमजान में और बढ़ जाता है, ऐसे में मुसलमान रोजा रखने के साथ वोट भी करेंगे।  

ओवैसी का बयान - रमजान में वोटिंग पर विवाद बेवजह, रोजे के साथ ज्यादा वोट करेंगे

मई महीने में आखिरी तीन चरण के लिए होने वाले मतदान रमजान के दौरान होंगे, इस पर तृणमूल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने ऐतराज जताया है।  


इन दलों का कहना है कि रमजान में मुस्लिम मतदाताओं को वोट करने में परेशानी होगी, जिसका लाभ बीजेपी को मिलेगा।  
 इस घमासान पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि इस मसले को बेवजह विवादित बनाया जा रहा है।  

रविवार शाम चुनाव तारीखों की घोषणा के बाद दिल्ली की ओखला विधानसभा सीट से विधायक अमानतुल्लाह खान और इस्लामिक स्कॉलर खालिद रशीद फिरंगी महली ने रमजान में चुनाव को लेकर सवाल उठाए, तृणमूल कांग्रेस भी इसमें कूद गई और आरोप लगा दिया कि बीजेपी नहीं चाहती कि मुसलमान वोट करें।