अगर जज्बा हो सीने में तो कोई भी लक्ष्य बड़ा नही होता-


ऐसा ही कुछ अजूबा कारनामा में इतिहास रचने वाले महुआ क्षेत्र के बिझरौली गांव निवासी 15 वर्षीय मोहम्मद परवेज उर्फ टाइगर ने सात दिनों में 80 घंटे दौड़कर मंगलवार को दिल्ली पहुंचा।


15 जनवरी को हाजीपुर से रवाना हुए था परवेज़, 23 जनवरी को पहुंचा दिल्ली।

इसलिए वो अपने मन मे एक अनोखा करने का ठाना और अपने गांव जंदाहा के बिझरौली से 15 जनवरी को दोपहर को दौड़ते हुए रवाना हुआ।


उसके बाद सात दिनों तक दौड़ते सारण,यूपी के मउ,आजमगढ़ होते हुए दिल्ली पहुंचकर नया कीर्तिमान बनाया।


दिल्ली पहुंच सांसद से मिलने के बाद श्री पासवान ने आश्वासन दिया है कि वे पीएम मोदी जी से मिलाने में मदद करेंगे।

सात दिनों में 1200 किलोमीटर चलकर दिल्ली पहुंचे धावक टाइगर का स्वागत सांसद व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने किया। 

केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट करके टाइगर को शबासी देते हुए कहा 'हाजीपुर के बिजरौली गांव, (जंदाहा) के धावक मोहम्मद परवेज़ आलम उर्फ टाइगर ने हाजीपुर से नई दिल्ली की लगभग 1200 कि०मी० की दूरी 80 घण्टे में दौड़कर पूरी की। 

मोहम्मद परवेज़ अंसारी बताया है कि माननीय नरेंद्र मोदी से मिलकर सिफारिस करूँगा की मुझे देश के लिए अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिला तो मैं ओलाम्पिक में भारत व बिहार का नाम रौशन कर सकता हूँ। 


उन्होंने बताया है कि मैं प्रत्येक दिन करीब 25 से 30 किलोमीटर की दूरी तय करता हूँ।बीते वर्ष उन्हें पासपोर्ट बीजा नही बनाने के कारण एशिया ओलिपिक गेम में शामिल होने का मौका नही मिल सका था।

80 घंटे दौड़कर बिहार के हाजीपुर से दिल्ली पहुंचा 15 साल का परवेज़ अंसारी 

अन्य खबरें भी पढ़े