इससे पहले गहलोत ने इस तरह की घटनाओं पर चिंता जताई. राज्य में ऑनर किलिंग की एक घटना का जिक्र करते हुए गहलोत ने कहा,


”यह क्या हो रहा है. ऐसे जघन्य अपराधों को रोकने के लिए कानून लाएंगे ताकि ऐसे लोगों को सबक सिखाया जा सके.”

गौरतलब है कि राजस्थान में अब तक मॉब लिंचिंग की कई घटनाएं हो चुकी हैं। हालाँकि अधिकांश घटनाएं बीजेपी शासन काल में हुई हैं।


अभी हाल ही में  जमींन विवाद की जांच में पहुंचे एक पुलिस हैड कॉन्स्टेबल की भीड़ द्वारा पीट पीट कर हत्या का मामला सामने आया है।

बड़ा कदम-मॉब लिंचिंग को रोकने के लिए कानून लाएगी राजस्थान सरकार

बजट बहस के जवाब के दौरान सीएम गहलोत ने 25 नए सरकारी कॉलेज खोलने और 4 गर्ल्स कॉलेज खोलने की घोषणा की।


राजगढ़ में नया स्टेडियम बनाने और झुंझुनू में स्पोर्टस यूनिवर्सिटी को फिर से शुरू करने की घोषणा की।  

वित्त वर्ष 2019-20 के बजट पर हुई बहस का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने इस तरह की घटनाओं पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों की तरह राजस्थान में मॉब लिंचिग को रोकने के लिये एक अधिनियम लाया जायेगा। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों की तरह राजस्थान में मॉब लिंचिग को रोकने के लिये एक अधिनियम लाया जायेगा।  

मुख्यमंत्री गहलोत ने मंगलवार को विधानसभा में इस बात की घोषणा की।