श्री श्री रविशंकर


श्री श्री रविशंकर का जन्म एक तमिल अय्यर परिवार में साल 1956 में हुआ था।
मार्च 2017 में श्री श्री रविशंकर ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि अगर अयोध्या विवाद नहीं सुलझा तो 'भारत में सीरिया जैसे हालात हो जाएंगे। '

श्रीराम पंचू


श्रीराम पंचू एक वरिष्ठ वकील और जाने-माने मध्यस्थ हैं. वो 'द मीडिएशन चैंबर्स' के संस्थापक भी हैं।  
ये संस्था विवादों का निबटारा और मध्यस्थता करती है. श्रीराम पंचू 'एसोसिएशन ऑफ़ इंडियन मीडियेटर्स' (IMI) के अध्यक्ष भी हैं।  

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामला सुलझाएंगे श्री श्री, ख़लीफ़ुल्ला और पंचू

जस्टिस एफ़एम खलीफुल्ला


सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस फ़कीर मोहम्मद इब्राहिम ख़लीफ़ुल्ला दिवंगत जस्टिस एम फ़कीर के बेटे हैं. वो 68 साल के हैं।  

सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस फ़कीर मोहम्मद इब्राहिम ख़लीफ़ुल्ला इस समिति के प्रमुख होंगे।  
उनके अलावा पैनल में आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर और वरिष्ठ अधिवक्ता श्रीराम पंचू भी शामिल हैं।  
दिलचस्प ये है कि उत्तर प्रदेश के अयोध्या मामले की मध्यस्थता करने वाले तीनों लोग दक्षिण भारत से ताल्लुक रखते हैं।  

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के राम मंदिर और बाबरी मस्जिद मामले को शुक्रवार को मध्यस्थता के लिए भेज दिया है।  

सुप्रीम कोर्ट के चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता में पांच जजों वाली पीठ ने तीन सदस्यों को मध्यस्थता समिति का सदस्य बनाया है।