जगन-चंद्रशेखर बन सकते हे किंग मेकर 


सर्वे के मुताबिक, आंध्र प्रदेश में जगन मोहन रेड्डी की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस को 23 सीटें मिल रही हैं। तेलंगाना में के चंद्रशेखर राव को 10 और ओडिशा में नवीन पटनायक की बीजू जनता दल को आठ सीटें मिल सकती हैं।


ऐसे में तीनों पार्टियों की सीटें 41 हो जाती हैं। यूपीए से ज्यादा इनका झुकाव फिलहाल एनडीए की ओर है। अगर ये दल एनडीए के साथ आते हैं तो एनडीए बहुमत का आंकड़ा पा लेगा।

लोकसभा चुनाव से पहले किए गए सर्वे में किसी भी गठबंधन को बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है। टाइम्स नाऊ-वीएमआर के सर्वे में एनडीए सबसे बड़ा गठबंधन बनकर उभर रहा है।


सर्वे में भाजपा और सहयोगियों को 252, यूपीए को 147 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है। अन्य दलों को इस सर्वे में 144 सीटें दी गई हैं। 2014 में भाजपा ने अकेले 282 सीटें जीती थीं।

उत्तरप्रदेश में भाजपा को सबसे ज्यादा नुकसान


सर्वे के मुताबिक नतीजे रहे तो भाजपा को उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा नुकसान हो सकता है। यहां 80 में से सपा-बसपा गठबंधन 51 सीटें जीत सकता है।


कांग्रेस को 3 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है।

मप्र, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में घट सकती हैं भाजपा की सीटें


सर्वे के मुताबिक, इन मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की 65 लोकसभा सीटों में से भाजपा 46 सीटें जीत सकती है। कांग्रेस को 20 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है।


सीटों के लिहाज से भले ही भाजपा को बढ़त हो, लेकिन 2014 के मुकाबले उसकी सीटें घट रही हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में उसे इन तीन राज्यों में 62 सीटें मिली थीं।

टाइम्स नाऊ-वीएमआर सर्वे: एनडीए को 252 सीटें, बहुमत से 20 कम; यूपीए को 147 सीटें